https://www.purvanchalrajya.com/

ठूठीबारी ग्राम सभा के खलिहान सहित पोखरी आदि पर किया जा रहा कब्ज़ा

विभागीय शह और पैसों के बलबूते लेखपाल आवास के ठीक सटे करीब 30 फिट जमीन पर चला बाउंड्रीवाल



विभाग की चुप्पी और कार्यवाही नहीं करने के कारण बढ़ रहा भू माफियाओ का हौसला

पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, महराजगंज 

महराजगंज। महाराजगंज जनपद के निचलौल ब्लाक अंतर्गत ग्राम सभा ठूठीबारी में भू माफियाओं द्वारा ग्राम सभा की पोखरी, खलिहान सार्वजनिक कुआं सहित अन्य सरकारी जमीन पर विभागीय शह व पैसों के बलबूते कब्ज़ा किया जा रहा है। अतिक्रमण का संज्ञान होने के बावजूद विभाग द्वारा अब तक कोई कार्यवाही नहीं किये जाने पर तरह तरह की चर्चाएं चल रही है। हैरानी की बात तो यह है कि जिस लेखपाल की जिम्मेदारी सरकारी संपत्ति को सुरक्षित रखने की है उनके आवास के ठीक बगल में करीब 30 खलिहान के जमीन पर गाँव के ही एक परिवार द्वारा कब्जा करबाउंड्रीवाल तक कर दिया गया है।जहां एक तरफ प्रदेश सरकार सहित माननीय न्यायालय ने सरकारी जमीन पर अतिक्रमण को लेकर सख्त आदेश जारी किये हुए है वही महाराजगंज जनपद के निचलौल ब्लाक के ठूठीबारी ग्राम सभा में इसका असर होता नहीं दिख रहा है।


ग्रामसभा के विभिन्न टोलों पर स्थित पोखरी,गड्ढा, खलिहान, यहां तक की सार्वजनिक कुआं पर भी अतिक्रमण कर लोग आशियाना बनाते देखे जा रहे है। मामला ठूठीबारी के शांतिनगर का हो या अराजी बैरिया का हो फिर धरमौली टोले का सबसे हैरान कर देने वाली बात यह है कि ठूठीबारी मुख सड़क मार्ग से अराजी बैरिया टोले को जाने वाले मुख्य लिंक मार्ग से सटे सरकारी आवास बनाया गया है जिसमे हल्का लेखपाल का भी आवास है। आवास के थी सामने व बगल में ग्राम सभा का खलिहान स्थित है जहां ठूठीबारी बाजार सहित अराजी बैरिया टोले के ग्रामीण उसका उपयोग करते चले आ रहे है। उसी खलिहान में गांव के ही एक परिवार के द्वारा कब्ज़ा किया जा रहा है। ऐसी चर्चा है कि सम्बंधित विभाग को मैनेज कर पैसों के बलबूते उक्त अविध निर्माण को कराया जा रहा है। ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि इसकी जानकारी राजस्व विभाग को होने के बावजूद ग्राम सभा के विभिन्न हिस्सों में सरकारी जमीन पर लोगों ने या तो कब्जा जमा लिया है या कब्ज़ा कर रहे है। अब ऐसे में विभाग जांच कर किस प्रकार की कार्यवाही करती है यह तो आने वाला समय ही बतायेगा फिलहाल ग्राम सभा में राजस्व विभाग को लेकर चर्चा जोरों पर चल रही है।

Post a Comment

0 Comments