https://www.purvanchalrajya.com/

दुश्वारी: आखिर कैसे बुझेगी गले की प्यास, जब संसाधन ही है ख़राब

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चतरा की महीनो से ख़राब पड़ी है गले की प्यास बुझाने की मशीन


 

पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, सोनभद्र (सरोज सिंह पटेल)

सोनभद्र। पूरे प्रदेश में जिस प्रकार की प्रचंड गर्मी का प्रकोप देखा जा रहा जिससे आम जनता बेहाल दिख रही ऐसे में सबसे अधिक आवश्यकता है कि लोग घरो से कम निकले और पेयजल, तरल पदार्थ सहित अधिक से अधिक फल फूल का सेवन करे। इस भीषण प्रचंड गर्मी में सबसे बड़ी अगर किसी जिच की जरुरत है तो वो है शुद्ध पेयजल..? अगर आम जनता को इसकी भी राहत नहीं मिल पाए तो हैरानी की बात है। 


यूपी के सोनभद्र जिले तहसील क्षेत्र राबर्टसगंज अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चतरा पर महीने भर से शुद्ध पेयजल की मशीन खराब पड़ी हुई है। जहां भीषण गर्मी को देखते हुए योगी सरकार ने संबंधित विभागों को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए सख्त दिशा निर्देश दिया है, ठीक इसके विपरीत सरकार की मंशा को ठेंगा दिखा रहा है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चतरा की शुद्ध पेयजल की मशीन विगत कई महीनों से ख़राब होने के कारण मरीज सहित उनके साथ आये परिजन अपने गले की प्यास नहीं बुझा पा रहे है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर शुद्ध और शीतल पेयजल उपलब्ध कराने के मकसद से लाखों रुपए की मशीन लगाई गई है। परंतु अधिकारियों की असंवेदनशीलता के कारण अस्पताल पर आने वाले मरीजों को और उनके साथ आने वाले परिजन को शुद्ध और शीतल पेयजल उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।

Post a Comment

0 Comments