https://www.purvanchalrajya.com/

CMO साहब कब करेंगे कार्यवाही जब चली जाएगी कुछ मासूमों की जान..?

स्वास्थ्य महकमे की शह पर फल फूल रहा सैदनगली में फर्जी अस्पताल



शिकायत के बावजूद अधिकारियों ने नहीं लिया संज्ञान   

पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, अमरोहा (उप संपादक अरुण वर्मा व वी के बशीर)

सैदनगली /अमरोहा। विगत सप्ताह अमरोहा के सैदनगली में स्थित फर्जी अस्पताल की पड़ताल में ऐसा खुलासा हुआ जिसे पढ़ सभी हैरान रह गए थे। बिना रजिष्ट्रेशन के विगत कई वर्षो से स्वास्थ्य महकमा के रहमों करम पर फल फूल रहा मेरठ हेल्थ केयर व जच्चा बच्चा केंद्र पर तमाम प्रकार की अनियमितताए मिली थी जिसकी शिकायत अमरोहा मुख्य चिकित्साधिकारी एस पी सिंह से की गई थी। जिस पर उन्होंने भरोसा दिलाया था कि जल्द ही उक्त अस्पताल की जांच करा उस पर कानूनी व विभागीय कार्यवाही कराई जाएगी। कार्यवाही तो दूर की बात खबर प्रकाशन के बाद सम्बंधित अस्पताल के गुर्गो ने प्रकाशित खबर से बौखला संबंधित संवाददाता को देख लेने व फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी तक देनी शुरू कर दी थी। जिसकी शिकायत ट्विटर अकाउंट के द्वारा प्रदेश सरकार के मुखिया सहित संबंधित विभाग के मंत्री व विभागीय अधिकारियों से की गई थी।


बावजूद उसके अभी तक कोई कार्यवाही नहीं किये जाने पर कई प्रकार के सवालिया निशान उठ रहे है। ऐसी चर्चा है कि अस्पताल प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य महकमा को पैसों के बलबूते मैंनेज कर लिया गया अब इस बात में कितनी सच्चाई है यह तो जांच के बाद पता चल सकेगा..? पर CMO साहब इस फर्जी बिना रजिस्ट्रेशन वाले अस्पताल में इलाज के दौरान अगर किसी मासूम की मौत हो जाएगी तो उसकी जिम्मेदारी विभाग की होगी या सम्बंधित अस्पताल की..? 


हैरानी होती है कि हजारो लाखों की आबादी के बीच बेख़ौफ़ संचालित हो रहे इस प्रकार के अस्पताल पर शिकायत के बावजूद विभाग कार्यवाही नहीं करता जबकि योगीराज में साफ़ साफ़ स्पष्ट और सख्त लहजो में निर्देश दिया गया है कि आम लोगों के जिंदगी के साथ किसी भी प्रकार से खिलवाड़ बर्दास्त नहीं किया जाएगी...?


सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस दिशा निर्देश का फिलहाल अमरोहा जनपद में तो कोई असर नहीं दिख रहा क्योकि मुख्य चिकित्साधिकारी के संज्ञान के बाद भी अभी तक मामला को टालमटोल किया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments