https://www.purvanchalrajya.com/

मतांतरण मामले में गहराई से छानबीन में जुटी कानपुर पुलिस, वजह लालच और गरीबी

मतांतरण के लिए उन्नाव ले जाते नवाबगंज क्षेत्र में दो बसों में 110 लोग के साथ पकड़े गये है दो क्रिश्चियन


पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, कानपुर (सुनील बाजपेई)

कानपुर। मतांतरण के लिए उन्नाव जाते समय दो क्रिश्चियन लोगों के साथ पकड़े गए 110 लोगों से पुलिस गहन पूछताछ लगातार कर रही है। इस पूछताछ से अब तक जो नतीजा निकला है, उसके मुताबिक जो लोग मतांतरण के लिए उन्नाव जा रहे थे ,उसके पीछे उनकी मजबूरी लालच और गरीबी से जुड़ी हुई थी। 

अवगत कराते चले कि बीते शनिवार की रात को यहां की नवाबगंज पुलिस ने एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए दो क्रिश्चियन को गिरफ्तार किया है जो 110 लोगों को अपने साथ उन्नाव ले जाकर मतांतरण करवाना चाहते थे। इन सभी 110 लोगों को दो वर्षों में भरकर ले जाया जा रहा था तभी इसकी भनक नवाबगंज पुलिस को लग गई और उसने बसों को रास्ते में ही रोक लिया। 

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए दोनों क्रिश्चियन लोगों से भी लगातार पूछताछ की जा रही है। जिससे मतांतरण रैकेट में शामिल अन्य लोगों के बारे में भी पता चल सके । 

पुलिस ने बताया कि अब तक जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक यह गैंग गरीब और दलित बस्तियों के लोगों को रुपए नौकरी और शादी का लालच देकर मतांतरण करवा रहे थे। 

इस मामले में इसाई समाज के कल्याणपुर आवास विकास निवासी नोयल विलियम्स और विष्णुपुरी के दीपक के खिलाफ अरमापुर इस्टेट सर्वेंट क्वार्टर में रहने वाले संजय बाल्मीकि की तहरीर पर दोनों के खिलाफ उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम-2021 की धारा-3 और धारा-5 (1) के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पुलिस ने बताया कि गहन जांच के नतीजे के आधार पर ही अगली कार्रवाई की जायेगी। फिलहाल प्रकरण चर्चा का विषय बना हुआ है।

Post a Comment

0 Comments