https://www.purvanchalrajya.com/

संयुक्त टीम ने गोपनीय सूचना के आधार पर 12 जालसाजों को दबोचा



पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, उत्तर प्रदेश (उप संपादक अरुण वर्मा)

नोएडा/उत्तर प्रदेश। नोएडा कमिश्नरेट पुलिस ने भारत में बैठ कर विदेशी नागरिकों को चपत लगाने वाले ठगों को दबोचा है। नोएडा पुलिस ने विदेशी नागरिकों को एन्टीवायरस सॉफ्टवेयर बेचने के नाम पर ठगी करने वाले 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस को इनके कब्जे से 14 डेक्सटॉप, 14 कीबोर्ड, 14 माउस, 14 सीपीयू, 14 हैडफोन, एक वाई-फाई, एक राउटर और 2 सर्वर बरामद किए हैं।

थाना फेस-1 पुलिस ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस टीम, मैनुअल इंटेलीजेन्स और गोपनीय सूचना के आधार पर कार्यवाही करते हुए 12 जालसाजों को गुरुवार को पकड़ा है। ये लोग विदेशी नागरिकों को कॉल कर के एन्टीवायरस सॉफ्टवेयर बेचने के नाम पर ठगी करते थे। शातिर आरोपियों की पहचान प्रदीप कुमार प्रधान, अविरल गौतम, ऋषभ शुक्ला, अली हसन, अनुराग तोमर, हरेंद्र चौधरी, मोहम्मद राजू, संदीप कुमार, दीपक शर्मा, सौरभ, साकेत प्रियदर्शी और शिवम के रूप में हुई है। इन आरोपियों को सेक्टर-2 के बिल्डिंग संख्या सी-37, सेकेंड फ्लोर अस्सिस्तारा ग्लोबल सर्विसेस प्राइवेट लिमिटेड से गिरफ्तार किया गया है।

थाना प्रभारी ध्रुव भूषण दुबे ने बताया कि ये सब लोग मिलकर विदेशी नागरिकों को कॉल करते हैं। ये कॉल करके बताते है की हमारी कंपनी के पास मैकेफी और नॉर्टन नामक एंटीवायरस सॉफ्टवेयर  है, जोकि लैपटॉप और कंप्यूटर में आने वाली समस्या का समाधान करता है। 100 से 500 डालर के प्रति वर्ष के ऑफर पर दिये जा रहे हैं। इसके बाद यूएसए  के कॉलर्स को लिंक उनकी ईमेल पर भेजकर रुपये ऐंठते है। आरोपियों की ओर ये कॉल सेन्टर बिना किसी लाइसेंस के चलाया जा रहा था।

Post a Comment

0 Comments