https://www.purvanchalrajya.com/

पूर्व विधायक के पुत्र को लगा फैमिली कोर्ट से झटका


पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, सुल्तानपुर 

कादीपुर/सुल्तानपुर: फैमिली कोर्ट जज ने पूर्व विधायक क़ादीपुर-रामचन्द्र चौधरी के पुत्र अंगद चौधरी को 10 हजार रुपये प्रतिमाह अपनी विवाहिता पत्नी इंद्रावती व बेटी के भरण-पोषण के लिए अदा करने का दिया आदेश,साथ मे कोर्ट ने मुकदमे में पैरवी के लिए भी पांच हजार रुपये इंद्रावती के पक्ष में देने के लिए अंगद चौधरी को दिया है आदेश,कोर्ट ने केस का निस्तारण न हो जाने तक पत्नी व बेटी के पक्ष में भरण-पोषण धनराशि जमा करने के लिए अंगद चौधरी के खिलाफ दिया है आदेश,दूसरी शादी करने के चक्कर मे पड़कर विवाहिता पत्नी से पीछा छुड़ाने के लिए विवाह-विच्छेद की अर्जी कोर्ट में दाखिल करने वाले पूर्व विधायक पुत्र का उल्टा पड़ा दांव,राहत पाने के इरादे से केस किया था दाखिल,पर खिलाफ आ गया अंतरिम अर्जी पर फैसला और अब तक कुछ भी हासिल नहीं हुआ।

कादीपुर क्षेत्र के गांधीनगर मोहल्ले के रहने वाले अंगद चौधरी व उनके पिता पूर्व विधायक रामचन्द्र चौधरी समेत अन्य परिवारीजनों पर पूर्व विधायक घराने की बहू ने लगाए है गम्भीर आरोप,व्यवसाय करने के नाम पर विवाहिता पत्नी इंद्रावती के पिता से 25 लाख रुपये बतौर उधार लेने का है आरोप,जिसमे पांच लाख रुपये नगद व 20 लाख रुपये जरिये अकाउंट लेने का है आरोप,उधार लिए रुपयों को मांगने पर लौटने के बजाय उसे हड़पने की नीयत से अनर्गल दबाव बनाने व पत्नी-बेटी को प्रताड़ित करने का है आरोप,बीते नौ फरवरी को पूर्व विधायक पुत्र अंगद चौधरी,पूर्व विधायक रामचन्द्र चौधरी एवं ससुरालीजन किरन चौधरी,राजा चौधरी,रोहन चौधरी व अंगद की कथित प्रेमिका विद्योतमा के खिलाफ गम्भीर धाराओं में इंद्रावती ने अपने मायके के पते पर अंबेडकर नगर जिले के जैतपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

प्रेमिका से शादी करने के चक्कर मे विवाहिता पत्नी को मारने-पीटने व उसके जेवर छीनकर घर से भगा देने का लगा है आरोप,प्रेमिका विद्योतमा के साथ सगाई के कई फोटोज व वीडियो भी आये है सामने,अखण्डनगर ब्लाक में संविदा कर्मी के रूप में तैनात बताई जा रही अंगद चौधरी की कथित प्रेमिका विद्योतमा,विवाहिता पत्नी के मौजूद रहते विधिक रुप से बिना कोई फैसला हुए विवाह की नीयत से सगाई करने वाले अंगद व उसकी कथित प्रेमिका विद्योतमा व इस खेल में शामिल अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की मांग को लेकर इंद्रावती ने पुलिस अधिकारियों को दिया है प्रार्थना-पत्र,जल्द हो सकती है मामले में कार्रवाई,गजब का है पूर्व विधायक परिवार का संस्कार,जिसे इतने जिम्मेदार पद पर रहने के बाद दूसरों को देनी चाहिए अच्छी सीख,वही अपनी विवाहिता पत्नी व छोटी सी बच्ची को बेसहारा छोड़कर अपनी जिम्मेदारियों से कर रहा इनकार,जल्द न निकाले कोई स्थाई हल तो पूर्व विधायक परिवार में मची घरेलू कलह राजनैतिक कैरियर में पड़ सकती है भारी।

Post a Comment

0 Comments