https://www.purvanchalrajya.com/

चैत्र नवरात्र: कानपुर के मंदिरों में पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा अर्चना को उमड़े भक्त


पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, कानपुर (सुनील बाजपेई)

कानपुर। मंगलवार से माता के चैत्र नवरात्र धूमधाम से शुरू हो गया। पहले दिन भक्तों ने  मां शैलपुत्री का पूजन किया। नवरात्र के पहले दिन भक्तों ने जहां घर पर मंगल कलश की स्थापना कर मां दुर्गा के सभी रूपों की विधि विधान से पूजा अर्चना की। इसके लिए शहर के प्रमुख दुर्गा मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहा। प्रात:काल से ही घरों में विधि.विधान के साथ कलश स्थापना हुई।

भक्तों में नवरात्र का प्रथम दिन विशेष महत्व रखता है। इसीलिए पहले दिन शहर के प्रमुख दुर्गा मंदिरों में प्रातः काल से लेकर  मंदिरों में भक्तों की लम्बी-लम्बी कतारें लगी रहीं। नवरात्र शुरू होने पर बारादेवी, तपेश्वरी, ज्वाला देवी, जंगली देवी, काली मठिया सहित शहर के छोटे बड़े मंदिरों में भी बड़ी संख्या में भक्तगणों ने पूजा अर्चना कर मां के दर पर मत्था टेका। 

इस दौरान माता के जयकारों से मंदिर गुंजायमान होता रहा। सिर पर माता की चुनरी बांधे भक्तगण उनका गुणगान करते हुए चल रहे थे।

श्री वैष्णो देवी मंदिर किदवईनगर में सुबह से ही भक्तों की कतारें लगी थीं। मंदिर में मां के पिंडी रूप में महालक्ष्मी महासरस्वती व महाकाली विराजमान थीं। दर्शन करने वाले भक्तों को हलवे का प्रसाद दिया गया। वहीं बारादेवी मंदिर में कानपुर सहित आसपास के जिलों से भी भक्त आये।  दामोदरनगर वैष्णो देवी मंदिर में भी भक्त जयकारे लगाते हुए गुफाओं से मां के दरबार पहुंचे। इसी तरह किदवईनगर दुर्गा मंदिर व जंगली देवी मंदिर, तपेश्वरी देवी मंदिर में भी धूम धाम से पूजा अर्चना के साथ भक्तों ने नवरात्र की शुरुवात की। इस बीच सभी मंदिरों में सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम रहे।

Post a Comment

0 Comments