https://www.purvanchalrajya.com/

होली पर अवैध शराब बेची तो खैर नहीं, शहजादपुर चौकी इंचार्ज ने चेताया


पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, अम्बेडकरनगर 

अंबेडकरनगर। भारतीय संस्कृति के अनुसार नंद उत्सव से शुरु हुआ प्रेम का महीना होली के साथ समाप्त होता है। एक-दूसरे को रंग-गुलाल लगाकर होली मनाते हैं। लेकिन समय के साथ होली पर्व के मायने बदल रहे हैं।अब तो मांस-मदिरा के साथ हुड़दंग को ही होली माना जाता है। होली के दिन गुलाल लगाएं या नहीं लेकिन मांस और मदिरा पीने और पिलाने का दौर तो जरुर ही होना चाहिए। शराब के नशे में धुत्त होकर हुड़दंग मचाना कोई बड़ी बात नहीं है। नशे में होली पर दुघर्टनाओं पर लगाम लगाने के लिए शहजादपुर चौकी इंचार्ज जितेंद्र सिंह द्वारा बताया गया कि होली पर अवैध शराब बेची तो खैर नहीं।क्षेत्र में कहीं पर भी किसी तरह की अवैध शराब की बिक्री नहीं होने दी जाएगी। विभाग की नजर ठेकों और अवैध रूप से बिक्री करने वाले लोगों पर रहेगी, जिससे की चोरी-छिपे शराब की बिक्री न हो सके।होली के त्योहार को शांतिपूर्ण ढंग से कराने के लिए पुलिस प्रशासन तैयार है। होली को आपसी सौहार्द का पर्व माना जाता है। लेकिन इस दिन शराब पीकर हुड़दंग करने और लड़ाई झगड़े के खूब मामले सामने आते हैं। त्योहार के दौरान कोई भी वाद-विवाद न पैदा हो और शांति बनी रहे इसलिए होली को ड्राई डे घोषित किया जाता है, यानी इस दिन शराब के ठेके बंद रहते हैं।क्षेत्र में शराब की दुकान खुलने एवं चोरी-छिपे शराब बेचने की शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। होली के दिन क्षेत्र में पुलिस आरक्षी शक्ति के साथ क्षेत्र में निगरानी करते हुए नजर आएंगे जिससे त्यौहार में खलल न पडने पाए और अगर किसी व्यक्ति द्वारा त्योहार के दौरान उपद्रव या खलल डालने का प्रयास किया जाएगा तो उसके साथ पुलिस सख्ती के साथ पेश आएगी और उचित कार्यवाही भी की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments