https://www.purvanchalrajya.com/

जिला दंडाधिकारी ने अप्रैल माह के प्रथम सप्ताह तक शस्त्रों के सत्यापन का दिया निर्देश


पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, बिहार 

मुंगेर/बिहार। आगामी लोक सभा आम निर्वाचन 2024 के मद्देनजर मुंगेर जिले में विधि व्यवस्था को शांतिपूर्ण बनाये रखने के निमित आयुध नियम, 2016 के नियम 30 के अंतर्गत जिला दण्डाधिकारी सह जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह के निर्देश के तहत 13 से 20 मार्च के बीच जिले के विभिन्न थानों में व्यक्तिगत शस्त्र के भौतिक सत्यापन का कार्य शुरू कराया गया था। जिसमें 1757 अनिग्यप्ति में से मात्र 738 अनुज्ञप्तिधारियों के 821 शस्त्रों का ही सत्यापन हो पाया है। 

विषय की महत्ता को देखते हुए जिला दंडाधिकारी सह जिलाधिकारी द्वारा पुनः 1 से 6 अप्रैल 2024 तक शस्त्रों के सत्यापन कार्य कराने का निर्देश दिया गया है। 

उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए जिले के 21 पदाधिकारियों को शस्त्र अधिनियम 1959 की धारा 43 (2) में वर्णित प्रावधानों तथा आयुध नियम, 2016 के नियम 30 के तहत 21 निरीक्षी पदाधिकारी को थानावार शस्त्रों के भौतिक सत्यापन के लिए प्राधिकृत किया गया है। उक्त सभी पदाधिकारियों द्वारा 1 से 6 अप्रैल 2024 के बीच विभिन्न थानों में शेष बचे सभी अनुज्ञप्तिधारियों के शस्त्रों एवं कारतूसों का भौतिक सत्यापन किया जाएगा। जिला दण्डाधिकारी सह जिलाधिकारी ने बताया कि सभी संबंधित पदाधिकारियों को शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियों द्वारा कारतूस क्रय की तिथि, कारतूस की संख्या, उपयोग किए गए कारतूस का विवरण, अवशेष कारतूस तथा कारतूस उपयोग का औचित्य के साथ प्रपत्र उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। सभी संबंधित पदाधिकारियों को निर्धारित तिथि तक शत प्रतिशत शस्त्र सत्यापन संबंधित प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है।

Post a Comment

0 Comments