https://www.purvanchalrajya.com/

किसी की मुस्कुराहटों पे हो निसार ...जीना इसी का नाम है




पूर्वांचल राज्य ब्यूरो, बलिया 

बलिया। पश्चिमी सभ्यता की चकाचौंध से बाहर निकल अगर कोई शख्स महिला बंदियों और वृद्ध महिलाओं के बीच अपने जीवन के कुछ अनमोल समय व्यतीत करे, साथ ही समाज को आईना दिखाए कि मानव जीवन ऐसा हो जो मानवता की सेवा को सदैव तत्पर हो और यह संदेश दे कि किसी की मुस्कुराहटों पे हो निसार, जीना इसी का नाम है, तो उस शख्स के व्यक्तित्व से समाज को सीख लेनी चाहिए। चर्चा यहां अल्पना सोनी की हो रही है जो सामाजिक कार्यकर्ता होने के साथ ही इनरव्हील क्लब बलिया की सक्रिय सदस्य भी हैं। बुधवार को मौका था उन्हीं के जन्म दिन का जो जिला कारागार की महिला बंदियों और गड़वार स्थित वृद्धाश्रम में एक अलग अंदाज में मनाया। जिला कारागार में महिला बंदियों के बीच हैप्पी बर्थडे गूंजा। सोनी ने इस मौके पर बंदियों में केक के अलावा केला, बिस्किट, नमकीन, फल आदि सामग्री वितरित किया। उनके साथ क्लब की जया सिंह,ऊषा पाण्डेय, नीलिमा सिंह, आशा पाण्डेय, कृष्णा मिश्रा, सरिता गुप्ता , महेंद्र पाल गौर, अमिता पाण्डेय, आयुषी सोनी, रेनू सिंह, प्रज्ञा सराफ आदि मौजूद थीं। जिला कारागार से वह गड़वार स्थित वृद्धाश्रम पहुंची और वहां भी विभिन्न सामग्री वितरित करने के अलावा वृद्ध महिलाओं से उनका हाल-चाल भी जाना।

Post a Comment

0 Comments